May 23, 2024

राहुल गांधी ने जिस "शक्ति" के बारे बात की उसका उल्लेख उन्होंने ट्वीट पर लिख कर बताया।

March 18, 2024
1Min Read
313 Views

राहुल गांधी ने कल न्याय जोड़ो यात्रा समापन के दिन "शक्ति" का जिक्र क्या लेकिन मोदी जी ने उसका पलटवार कर राहुल गांधी को गलत साबित कर अपने भाषण में "शक्ति" को गलत तरीके से जनता को संबोधित किया।

राहुल गांधी ने ट्वीट के माध्यम से शक्ति शब्द किसे बोला ।

मोदी जी को मेरी बातें अच्छी नहीं लगतीं, किसी न किसी तरह उन्हें घुमाकर वह उनका अर्थ हमेशा बदलने की कोशिश करते हैं क्योंकि वह जानते हैं कि मैंने एक गहरी सच्चाई बोली है। 

जिस शक्ति का मैंने उल्लेख किया, जिस शक्ति से हम लड़ रहे हैं, उस शक्ति का मुखौटा मोदी जी हैं। 

वह एक ऐसी शक्ति है जिसने आज, भारत की आवाज़ को, भारत की संस्थाओं को, CBI, IT, ED को, चुनाव आयोग को, मीडिया को, भारत के उद्योग जगत को, और भारत के समूचे संवैधानिक ढाँचे को ही अपने चंगुल में दबोच लिया है।

उसी शक्ति के लिए नरेंद्र मोदी जी भारत के बैंकों से हज़ारों करोड़ के क़र्ज़ माफ़ कराते हैं जबकि भारत का किसान कुछ हज़ार रुपयों का क़र्ज़ न चुका पाने पर आत्महत्या करता है।

 

उसी शक्ति के लिए नरेंद्र मोदी जी भारत के बैंकों से हज़ारों करोड़ के क़र्ज़ माफ़ कराते हैं जबकि भारत का किसान कुछ हज़ार रुपयों का क़र्ज़ न चुका पाने पर आत्महत्या करता है।

उसी शक्ति को भारत के बंदरगाह, भारत के हवाई अड्डे दिये जाते हैं जबकि भारत के युवा को अग्निवीर का तोहफ़ा दिया जाता है जिससे उसकी हिम्मत टूट जाती है।

उसी शक्ति को दिन रात सलामी ठोकते हुए देश की मीडिया सच्चाई को दबा देती है।

उसी शक्ति के ग़ुलाम नरेंद्र मोदी जी देश के गरीब पर GST थोपते हैं, महंगाई पर लगाम न लगाते हुए, उस शक्ति को बढ़ाने के लिए देश की संपत्ति को नीलाम करते हैं।

उस शक्ति को मैं पहचानता हूँ,
उस शक्ति को नरेंद्र मोदी जी भी पहचानते हैं,
वह किसी प्रकार की कोई धार्मिक शक्ति नहीं है, 
वह अधर्म, भ्रष्टाचार और असत्य की शक्ति है।

इसलिए जब जब मैं उसके ख़िलाफ़ आवाज उठाता हूँ, मोदी जी और उनकी झूठों की मशीन बौखलाती है, भड़क जाती है।

Leave a Comment

All Rights Reserved © 2024 Town Live News