May 23, 2024

संभल लोकसभा क्षेत्र से जियाउर्रहमान बर्क को टिकट होते ही, लोग हो गए खफा। क्या मना पाएंगे जिया ?

March 22, 2024
1Min Read
518 Views

समाजवादी पार्टी ने गठबंधन प्रत्याशी लोकसभा क्षेत्र संभल से जियाउर्रहमान बर्क को टिकट दिया है। इससे लोगो में नाराज़गी देखने को मिल रही है । सोशल मीडिया फेसबुक के मुताबिक़ कई लोग उनका लगातार विरोध कर रहे हैं।

क्या हो सकती है वजह जिससे संभल लोकसभा क्षेत्र की विधानसभाओं में नाराज़गी देखने मिल रही है ?

​​​​आपको बता दें कि पिछले दिनों भारत के सबसे बुजुर्ग सांसद मरहूम शफीकुर्रहमान बर्क का इंतकाल हो गया था। जिससे मुस्लिम बहुल क्षेत्र संभल में लोगो काफ़ी दुःख हुआ।

संभल लोकसभा क्षेत्र में बर्क साहब ने काफी लंबा सफ़र तय किया था और कई बार अलग अलग राजनैतिक पार्टी से सांसद बने।

समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क को संभल लोकसभा क्षेत्र से टिकट हो गया था।

लेकिन उनका इंतकाल हो जाने से आगामी लोकसभा चुनाव 2024 में टिकट को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई 

कई राजनीतिक दलों के नेता और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी वहां संभल उनके आवास पर पहुंचे थे उसी दौरान जियाउरहमान वर्क ने अपने टिकट को लेकर व दादा साहब की विरासत को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से टिकट की अपील की थी। 

अब समाजवादी पार्टी से संभल लोकसभा क्षेत्र से जियाउर्रहमान बर्क को टिकट दे दिया है।

आपको बता दें जियाउर्रहमान बर्क 29 विधासभा कुंदरकी से विधायक हैं 2022 के सामान्य विधानसभा चुनाव में विजय घोषित हुए थे, उन्होंने विधानसभा कुंदरकी से टिकट हाजी रिजवान का टिकट कटा कर प्राप्त किया था जिससे हाजी रिज़वान ने समाजवादी पार्टी से बहुत नाराज़गी जताई थी।

और हाजी रिज़वान ने बहुजन समाज पार्टी से उन्हें टक्कर देने पर चुनाव लडे और चुनाव हार गए।

इधर बहुजन समाज पार्टी से हाजी चांद बाबू मलिक पहले से टिकट लाए हुए थे जो हाजी रिजवान ने छीन लिया था ।

 जिससे मुस्लिम मलिक समाज पूरी तरह से हाजी रिजवान के खिलाफ़ हो गया था।

मौका देखते ही जियाउर्रहमान बर्क और उनके दादा मरहूम शफीकुर्रहमान ने हाजी चांद बाबू मलिक को समाजवादी पार्टी में शामिल किया और कई शर्तो पर मंजूरी की थी

अब लोकसभा चुनाव में जियाउर्रहमान ने हाजी रिजवान और अकीलुर्रहमान को समाजवादी पार्टी में शामिल कर लिया है। 

अगर जियाउर्रहमान बर्क की लोकसभा चुनाव में जीत हुई तो उपचुनाव होना तय है जिससे हाजी रिजवान और हाजी चांद बाबू मलिक टिकट की दावेदारी समाजवादी पार्टी को पेश करेंगे। जो सोशल मीडिया फेसबुक पर चर्चा का विषय बनी हुई है।

सोशल मीडिया फेसबुक की अगर मानें तो संभल लोकसभा की सभी विधानसभाओं में जिया के टिकट को लेकर लोग खुश नही दिख रहे हैं।

आपको बता दें कि संभल लोकसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद जावेद अली खान अपने बेटे को संभल लोकसभा क्षेत्र से टिकट दिलाना चाहते थे जो नही दिला पाए।

जावेद अली खान के करीबी मोहम्मद सुहैल अली खान ने अपनी एक पोस्ट में लिखा है 

"जनाब Zia Ur Rehman Barq  सहाब #आपसे_जनता आखिर #नाराज हो क्यों नही -- #आप_खुद ही #सोचिये आप कितना अपनी लोकसभा क्षेत्र के खास तौर पर हमारी बिलारी विधानंसभा के लोगो के #सुख_दुख में #शामिल होते हो ,
#आपको_यहाँ के #कितने_ग्रामो और उनमें रहने बाले #लोगो के नाम याद है , आपने कितने विकास कार्य बिलारी विधानंसभा में कराए है , 2019 का चुनाव जीतने के बाद आखिर कितनी बार आप बिलारी के ग्रामीण इलाकों में आये हो , #आज_तक #आपने_बिलारी के उन #कार्यकर्ताओं की #सुध आखिर क्यों नही ली जिन्होंने आपके #दादा_मोहतरम को 2019 में जिताने के लिए न जाने सत्ता पार्टी के कितने #अत्याचार_झेले है , आखिर क्यों आज तक उन बूथ और सेक्टर के प्रभारियों की मीटिंग या उनका हाल चाल जानने की कोशिश आपने नही की जिन्होंने आपको जिताने में एहम भूमिका निभाई थी ।।

ये #सिर्फ_चंद_सबाल है अभी न जाने कितने और सबाल है जो बिलारी की जनता आपसे इस बार करने को तैयार बैठी है ।।"

मोहम्मद सुहेल अली खान ( कार्यकर्ता समाजवादी पार्टी)...✍️
30 विधानसभा बिलारी

इधर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी सुप्रीम कोर्ट के वकील फ़राज़ खान भी संभल लोकसभा से टिकट के लिए अपनी अर्जी दी थी।

जिससे लोगों में नाराज़गी देखने को मिल रही है 

क्यों चाहते हैं मुस्लिम प्रत्याशी संभल से टिकट लेना आखिर क्या वजह होती है 

क्या टिकट लेने के लिए बड़ा कारण संभल लोकसभा एक मुस्लिम बहुल क्षेत्र है ?

क्या यहां विकास पूर्ण हो चुका है। ?

क्या संभल में कोई यूनिवर्सिटी की जरूरत नहीं हैं?

क्या यहां की जनता को सिर्फ मुस्लिम नेता पर भरोसा रहता है, कानून पर कोई भरोसा नहीं है। 

क्या भारत में कही पर भी संभल का नाम लेने से रोज़गार और नौकरी तुरंत मिलती है। 

आपकी राय लाइक कमेंट और शेयर करें।

 

 

Images :

Leave a Comment

All Rights Reserved © 2024 Town Live News